Vaicharik Goshti

Vaicharik Goshti organised by Arya Samaj Greater Kailash-1

ईश्वर प्रार्थना क्यों एवं कैसे विषय पर वैचारिक गोष्ठी सम्पन्न
आर्य समाज ग्रेटर कैलाश पार्ट-1 नई दिल्ली के तत्त्वावधान में अनेक सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से एक अद्वितीय वैचारिक संगोष्ठी का आयोजन 27 नवम्बर 2016 को आर्य ऑडिटोरियम ईस्ट ऑफ कैलाश में किया गया। गोष्ठी की महत्त्वपूर्ण विशेषता यह थी कि इसमें ईसाई एवं इस्लाम सहित सभी मतों के प्रामाणिक विद्वानों ने अपने-अपने मतानुसार ‘प्रार्थना’ विषय पर विविध आयामों पर प्रकाश डाला।
 
गोष्ठी में वैदिक विद्वान डॉ. महेश विद्यालंकार ;पूर्व रीडर दिल्ली विश्वविद्यालयद्ध, डॉ. वागीश जी ;प्राचार्य आर्ष गुरुकुल, एटाद्ध, डॉ. विनय विद्यालंकार ;एसोसिएट प्रोफेसर, उत्तराखण्डद्ध, इस्लामिक विद्वान जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के प्रो. सैय्यद रजि अहमद कमाल, पौराणिक स्वामी प्रज्ञानन्द जी ;संस्थापक परमाध्यक्ष सांई प्रज्ञाधाम, साकेत दिल्ली,  ईसाई मत के प्रो. विक्टर एडविन एसजे ;विद्यावती कॉलेज ऑफ थियोलॉजी एवं डॉ. मदन मोहन वर्मा ;संस्थापक इंटरफेथ संस्थानद्ध ने अपने गवेषणात्मक विचार प्रस्तुत किए। गोष्ठी के मुख अतिथि डॉ. अशोक चौहान ;संस्थापक अध्यक्ष, एमिटी विश्वविद्यालय एवं शिक्षण संस्थान तथा चेयरमैन, ए.के.सी. ग्रुपद्ध एवं डॉ. अमीता चौहान ;चेयरपर्सन, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल्सद्ध रहे। अध्यक्षता सांची विश्वविद्यालय भोपाल की पूर्वकुलपति डॉ. शशि प्रभा कुमार ने की व आशीर्वाद स्वामी प्रणवानन्द जी का हुआ।
 
कार्यक्रम में हीरो ग्रुप की मुंजाल शोवा कम्पनी के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री योगेश मुंजाल, दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा के प्रधान श्री धर्मपाल आर्य, टंकारा ट्रस्ट के मंत्री श्री अजय सहगल, दिल्ली संस्कृत अकादमी के पूर्व अध्यक्ष डॉ. धर्मेन्द्र शास्त्री, श्रीमती बाला चौधरी, श्री नीति´जय चौधरी, झज्जर गुरुकुल के आचार्य विरजानन्द दैवकरणि आदि अनेक गणमान्यजन एवं अतिथि उपस्थित थे।
 
-राजीव चौधरी

125th Maharshi Dayanand Saraswati Nirvan Utsav