Arya Parivar Holi Mangal Milan Samaroh -2018

Arya Parivar Holi Mangal Milan Samaroh -2018 celebrate by Delhi Arya Pratinidhi Sabha

01 Mar 2018
India
Delhi Arya Pratinidhi Sabha

दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा द्वारा गुरुवार 1 मार्च 2018 को रघुमल आर्य कन्या सी.से. स्कूल, राजा बाजार कनॉट प्लेस में आयोजित ‘आर्य परिवार होली मंगल मिलन समारोह आर्य जगत के भामाशाी महाशय धर्मपाल (चेयरमैन एम.डी.एच.ग्रुप) ने भारी संख्या में पधारे आर्य परिवार को शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘‘फूलों व प्राकृतिक रंगों से होली खेलना आदर्श परम्परा है। महाशय जी ने अपने सम्बोधन को आगे बढ़ाते हुए बताया कि ‘मैं एक ऐसी कार्य योजना को बना रहा हूं जो आर्य जगत के लिए इतिहास बनेगी। बस मैं जिस काम को करने जा रहा हूं उसमें कामयाब हो जाऊं उसके लिए आपका सहयोग चाहिए।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एमिटी संस्थापक डॉ. अशोक चैहान ने अपने वक्तव्य में कहा ‘‘भारत सुपर पावर बनेगा और इस कार्य आर्य समाज की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण होगी।’’ डॉ. सोमदेव जी ने अपने उद्बोधन में कहा ‘हमारे समाज में वेदों का ठीक प्रकार से प्रचार न होने से ही अन्धविश्वास और पाखण्ड की वृद्धि हुई है। इसी कारण आज वृधावस्था असुरक्षित है और विद्वातजन भी अपना पूर्ण सम्मान पाने से वंचित हो रहे हैं।’’ आजीवन ब्र२चारी व्रत धारण करने वाले ब्र. अरुण कुमार आर्य वीर (पूर्व नाम माईकल डिसूजा) को ब्र. राजसिंह आर्य स्मृति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। समारोह का शुभारम्भ मुम्बई से पधारे वैदिक विद्वान डॉ. सोमदेव जी के ब्रह्मत्व में पूर्ण वैदिक विधि द्वारा नव सस्येष्टि यज्ञ से हुआ। यज्ञ में श्रीमती मोहनी देवी एवं श्री यशपाल आर्य, श्रीमती रूपांशी एवं श्री विपुल सूद, श्रीमती विद्या एवं श्री मनोहरलाल गुप्ता, श्रीमती कल्पना एवं श्री प्रकाश शर्मा, श्रीमती रंगोली एवं आयुष आर्य, श्रीमतीवर्षा एवं श्री संजीव आर्य, श्रीमती नीतू एवं श्री संजीव मल्होत्रा जी यज्ञमान बने। यज्ञोपरान्त डॉ. सोमदेव जी द्वारा सभी यज्ञमानों का पुष्प वर्षा कर आशीर्वाद दिया व सभा पदाधिकारियों द्वारा यज्ञ को सफल बनाने के लिए ब्रह्मत्व  व यजमान का धन्यवाद दिया। मंच का संचालन महामंत्री श्री विनय आर्य ने किया व कार्यक्रम की अध्यक्षता महाशय धर्मपाल जी ने की। श्री विनय आर्य ने सभा के आगामी कार्यक्रमों की घोषणा करते हुए बताया कि इस वर्ष अक्टूबर 2018 में अन्तर्राष्ट्रीय आर्य महासम्मेलन दिल्ली में आयेाजित होगा जिसमें लगभग 36 देशों के प्रतिनिधियों के साथ-साथ भारत के लोग भी हर प्रान्त से भारी संख्या में आर्य प्रतिनिधि सम्मिलित होंगे जिसके लिए आपने अभी से अपनी कमर कसने की जरूरत है। सभा 1 अप्रैल को अधिकतम जनसंख्या दिवस के रूप में मनाएगी। इस दिन अपनी-अपनी आर्य समााजों के यज्ञ कार्यक्रमों  में सपरिवार/रिश्तेदारों ईष्ट- मित्रों के साथ यज्ञ में शामिल होकर अपनी उपस्थिति ज्यादा से ज्यादा दर्ज कराएं। सभा 15 अप्रैल से 30 अप्रैल 2018 तक अन्धविश्वास निरोधक माह का आयोजन कर रही है जिसके लिए सभा की ओर से जादूगर व सामान की व्यवस्था होगी आपको अपने समाज की ओर से केवल मंच व माईक की व्यवस्था करनी होगी। यदि कोई आर्य समाज अभाव ग्रस्त होगी तो दिल्ली सभा उसकी सहायता अवश्य करेगी। 6 मई 2018 को 20वां आर्य युवक-युवती विवाह परिचय सम्मेलन आर्य समाज कीर्तिनगर में होगा जिसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन चालू हैं आप भी अपने विवाह योग्य बच्चों का रजिस्ट्रेशन अवश्य कराएं अथवा श्री सतीश चड्ढा जी से सम्पर्क करें। सभा 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस पर दिल्ली में 1500 याज्ञिक एक स्थान पर यज्ञ करेंगे। स्थान की घोषणा शीघ्र ही की जाएगी। आर्य समाज प्रतिभा विकास संस्थान का निर्माण किये जाने का प्रस्ताव भी सभा के पास सुरक्षित है, जिसकी घोषणा जल्द ही सभा की ओर से की जाएगी।

कार्यक्रम में गुरुकुल गुरुविरजानन्द संस्कृतकुलम्, महर्षि दयानन्द पब्लिक स्कूल, शादीखामपुर, रघुमल आर्य कन्या सी. सै. स्कूल तथा आर्य समाज रानी बाग ने बहुत ही सुन्दर-सुन्दर लघु नाटिकाएं, गीत इत्यादि के बच्चों ने मनमोहक व हृदय स्पर्शी प्रस्तुत देकर सभी को भाव विभोर कर दिया। हरियाणा से पधारे हास्य कवि श्री अनिल अग्रवशी ने अपनी हास्यरस की कविता व चुटकियों से भी को हंसा-हंसाकर लोटपोट कर दिया। आर्यवीर दल कीर्तिनगर द्वारा श्री कृष्ण- सुदामा प्रस्तुति पर श्री विनय आर्य ने कहा कि ‘हमने गरीबों को गले नहीं लगाया इसी वजह से आज देश जन संख्या असंतुलन से जूझ रहा है। यदि हमने छुआ-छूट का भेदभाव मिटाकर सभी को गले लगाया होता आज हमारा देश निश्चित ही सोने की चिड़िया वाली कहावत को चरितार्थ कर रहा होता।’ इस अवसर पर बच्चों ने ‘मांसाहार नहीं करने व ना परोसने का’ संकल्प लिया।

इस अवसर पर दो इनामी कूपन निकाले गये जिसमें प्रथम पुरस्कार सागरपुर निवासी श्री फूल सिंह जी को व द्वितीय पुरस्कार पंजाबी बाग निवासी श्रीमती ललिता मेहता को प्राप्त हुआ। सभा की ओर से इस अवसर पर सबसे छोटी 127 दिन की बच्ची तृप्ती व नवदंपत्ति को शॉल व स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. योगानन्द शास्त्री जी, एमिटी विश्वविद्यालय के संस्थापक चेयरमैन डॉ. अशोक कुमार चैहान जी, श्री आनन्द चैहान जी, जेबीएम प्रमुख श्री सुरेन्द्र आर्य जी, श्री योगेश मुंजाल जी सहित अनेक अतिथि महानुभाव उपस्थित थे। कार्यक्रम की विभिन्न व्यवस्थाओं बनाने में व्यवस्थित रूप से सम्पादित करने में दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा, आर्य केन्द्रीय सभा, आर्यसमाज हनुमान रोड, एस. एम. आर्य पब्लिक स्कूल पंजाब बाग के अधिकारियों, कार्यालय स्टाफ एवं आर्य कार्यकर्ताओं का विशेष सहयोग रहा। इसी के साथ कार्यक्रम स्थल पर किसी भी अनहोनी घटना/दुर्घटना से बचाव के लिए सभा द्वारा दिल्ली के औचन्दी ग्राम में संचालित दीवानचन्द स्मारक गोकुलचन्द आर्य धर्मार्थ हस्पताल की टीम एवं मन्त्री श्री महेंद्र सिंह लोहचब जी फस्टेड एवं एम्बूलैंस व्यवस्था के साथ उपस्थित थे।

सभा प्रधान श्री धर्मपाल आर्य जी ने भी कार्यकर्ताओं, अधिकारियों एवं सदस्यों का जिन्होंने प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष किसी भी रूप में इस 16वें आर्य परिवार होली मंगल मिलन समारोह को सफल एवं यादगार बनाने में सहयोग प्रदान किया,

उन सबका हार्दिक धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया।                                                                                                                                                                                                             

- महामन्त्री

 

New Building Inauguration of Arya Samaj Jahangirpuri

Vishal Rishi Mela