Bodh Utsav is a festival to awaken Shiva Sankalp: Dharmapal Arya

Bodh Utsav is a festival to awaken Shiva Sankalp: Dharmapal Arya

नई दिल्ली। महर्षि दयानंद सरस्वती को शिवरात्रि पर सच्चे शिव का ज्ञान मिला, जिससे प्रेरित होकर उन्होंने बौद्धिक और  वैचारिक क्रांति की. आज भी इस क्रांति को  जन जन तक पहुंचाने की आवश्यकता है.  यह बात आर्य सन्यासी स्वामी संपूर्णानंद ने आर्य केंद्रीय सभा दिल्ली की ओर से रामलीला मैदान नई दिल्ली में आयोजित  महर्षि दयानंद बोध उत्सव  कार्यक्रम में कही.  मुख्य अतिथि डॉक्टर स्वरूप शास्त्री कुलपति गुरुकुल कांगड़ी विश्व विद्यालय  हरिद्वार ने कहा मनुष्य में सबसे बड़ी शक्ति विवेक है जो विद्या&अविद्या अंधेरे&उजाले का परिचय देती है. समाज में फैले अंधविश्वास कुरीतियों को दूर करने वाले सार्थक प्रयास होने चाहिए। दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा के प्रधान धर्मपाल आर्य ने कहा यह शिव संकल्प जगाने का पर्व है.युवा पीढ़ी तथा शिक्षित लोगों को जगाना जरूरी है. कार्यक्रम में हौलैंड से  पहुंची पंडिता  शर्मा ने कहा हमें गर्व है कि हम विदेश में रहकर भारतीय संस्कृति और संस्कारों को पोषित कर रहे हैं.
इस अवसर पर सभा के महामंत्री सतीश चड्ढा ने कहा  कि हर्ष आर्य; अनीता कुमार, आयुषी राणा, मनोज कुमार नेगी, राकेश कुमार आर्य, सूर्य नारायण  को कर्मठता पुरस्कार से सम्मानित किया गया. जबकि  आराधना शर्मा व अन्य  ने भजन प्रस्तुत किए।  कार्यक्रम को सफल बनाने में सुरेंद्र आर्य, अरुण प्रकाश वर्मा, कीर्ति शर्मा, एसपी सिंह, उषा किरण,  राजेंद्र दुर्गा शास्त्री आदि का सह्योग रहा. 

Rishi Janmotsav Celebration

Swami Dayanands Birthday and Bodhotsav