Dr. Yashpal Gandhi

(Mandalay, Mandalay, Myanmar)

15 November 2017

आर्य प्रतिनिधि सभा म्यांमा के पूर्व प्रधान डॉ. यशपाल गांधी का लम्बी बीमारी के बाद 15 नवम्बर 2017 को भारत में निधन हो गया। उनके पिता श्री हरवंशलाल जी मोगोक आर्य समाज के प्रधान तथा आर्य प्रतिनिधि सभा म्यांमा के वर्ष 1961 से वर्ष 1976 तक प्रधान रहे। डॉ. की उपाधि प्राप्त कर लेने के बाद  डॉ. यशपाल जी का विवाह माण्डले निवासी श्री सोहनलाल जी वर्मा की सुपुत्री सुश्री शशि प्रभा से हुआ।

आपने प्रधानत्व काल में डॉ. गांधी जी ने सभी आर्यसमाजों एवं आर्यजनों को एकता के सूत्र में पिरोकर कार्य किया। आपने तथा आपकी धर्मपत्नी श्रीमती शशि प्रभा ने सत्संग गुटका का म्यांमा भाषा में अनुवाद कर स्वयं अपने खर्चें पर प्रतिनिधि सभा के नाम प्रकाशित करवाया तथा आर्य गुरुकुल का उद्घाटन 1 मार्च 2012 को आर्य समाज मन्दिर जियावडी में किया। वर्ष 2010 लाश्यो में डॉ. यशपाल गांधी एक मोटर दुर्घटना में दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद लगभग 7 वर्ष रुग्णशैया पर ही रहे। वे अपने इलाज के सिलसिले में आप भारत आये हुए थे। अस्वस्थ होने के बाद भी आप व आपकी धर्मपत्नी सामाजिक व धार्मिक कार्यों में दिल खोलकर उदारता पूर्ण दान करती रहीं। वर्तमान वर्ष 2017 के आर्य महासम्मेलन माण्डले में 20 लाख रुपया दान प्रदान कर सम्मेलन में भाग लिया। 

Photo Gallery

No More Photos

Sign Guest Book

Upload Photos