Mahashay Dharampal passes away

Top Arya Samaj leader and industrialist Padmabhushan Mahashay Dharamapal breathed his last in Delhi

आर्य समाज संस्थापक महर्षि दयानंद सरस्वती के अनन्य शिष्य, आर्य समाज के कर्मठ सिपाही, आर्य जगत के दानवीर भामाशाह, संकल्प के धनी, परम ईश्वर भक्त, यज्ञ भक्त, उदार मना, प्रेरणा स्रोत, कर्मवीर, धर्मवीर, शूरवीर, सेवा साधना के हिमशिखर, विश्वविख्यात समाज सेवी, भारत के महान विभूति महान याज्ञिक, अनेक विद्यालयों के संस्थापक, गुरुकलों के पोषक, गौभक्त, मसालों के शहंशाह, वैदिक धर्म के अनुगामी अनेक संस्थाओं के पालक पोषक एवं उत्थानक, संस्कृति और संस्कारों के संपोषक, शिक्षा चिकित्सा के क्षेत्र में अनुगामी, शिक्षा क्रांति अभियान के जनक, वेद विद्या के उन्नायक, चिर युवा, आर्य नायक, धर्म नायक, राष्ट्र नायक, पुरुषार्थी, ईमानदार, त्यागी, अनथक परिश्रमी, सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित सार्वदेशिक आर्य प्रतिनिधि सभा के संरक्षक, अखिल भारतीय दयानन्द सेवाश्रम संघ के प्रधान, आर्य केंद्रीय सभा के प्रधान, एमडीएच के चेयरमैन महाशय धर्मपाल आर्य जी का आज दिल्ली में ९८ वर्ष की आयु में निधन हो गया|  उनके देहावसान की सुचना मिलते ही देश विशेष में शोक की लहर दौड़ गई |  

Admission open at Darshan Yog Mahavidyalay

AS Distributed Satyarth Prakash